खिलौना आधारित शिक्षाशास्त्र : Nishtha SEC Module 12 Answer Key

‘खिलौना आधारित शिक्षाशास्त्र’ एक सीखने-सिखाने की सोच (अप्रोच) है जिसमें अवधारणाओं और कौशलों को खिलौनों, खेल, कठपुतली आदि का उपयोग करके आनंदपूर्ण तरीके से सीखा जाता है। यह पाठ्यक्रम शिक्षार्थी को अपने विषय/विषयों के शिक्षण-अधिगम में खिलौनों के उपयोग को सीखने और अभ्यास करने में सक्षम बनाता है। इस पोस्ट में आप “खिलौना आधारित शिक्षाशास्त्र” BH, MP, JH, RJ, CG, GJ, UP, UK, HR, MH, HP, CHD, CBSE, KVS, NVS, DL, AP, KA, MZ, AR, AS, JKFLN, GA, PB NISHTHA 2.0 for Secondary School Teachers of all States Module 12 ” Khilauna Adharit Shikshashatra ” quiz question and Answer Key pdf in Hindi and English जान सकेंगे |

खिलौना आधारित शिक्षाशास्त्र (Nishtha Module 12 Answer Key)

दीक्षा ऑनलाइन प्रशिक्षण में समस्त राजकीय, अशासकीय सहायता प्राप्त व वित्तविहीन माध्यमिक विद्यालय जो मान्यता प्राप्त हैं, के सभी सहायक अध्यापकों, प्रवक्ताओं, प्रधानाध्यापकों व प्राधानाचार्यों को प्रतिभाग करना है | इस ऑनलाइन प्रशिक्षण में सभी प्रतिभागियों को दीक्षा पोर्टल पर अंतिम तिथि से पूर्व अपने राज्य के लिए निर्धारित लिंक से रजिस्ट्रेशन करना अनिवार्य है |

सभी हिन्दी भाषी राज्यों में चल रहे निष्ठा प्रशिक्षण में मूल्यांकन प्रश्नोत्तरी एक समान है, लेकिन प्रशिक्षण लिंक अलग-अलग हैं | लगभग 40 प्रश्नों में से आपको एक प्रयास में केवल 20 Random प्रश्न मिलेंगे | मूल्यांकन प्रश्नोत्तरी में अधिकतम 3 प्रयासों में 70% अंक प्राप्त करने पर ही प्रमाण पत्र प्राप्त होगा | यहाँ सभी प्रश्नों के उत्तर उपलब्ध कराये जा रहे हैं | इससे आपको प्रश्नोत्तरी हल करने में सहायता मिलेगी |

Nishtha Module 12 “ खिलौना आधारित शिक्षाशास्त्र ” प्रशिक्षण के उपरान्त मूल्यांकन प्रश्नोत्तरी में 70% अंक अवश्य प्राप्त करें | अतः इस प्रशिक्षण को ध्यान से पूरा करने की आवश्यकता होगी | यह प्रश्नोत्तरी मात्र मार्गदर्शन हेतु उपलब्ध कराई जा रही है |

“खिलौना आधारित शिक्षाशास्त्र” Nishtha Module 12 प्रश्नोत्तरी Answer Key

प्रश्न- 1. निम्नलिखित में से कौन से स्कूल में खिलौना शिक्षा शास्त्र को बढ़ावा देने में मदद नहीं करता है-

  • खिलौने बनाने के लिए कारीगरों और सिल्प कारों को आमंत्रित करना
  • स्कूल परिसर में एक खिलौना कक्ष बनाना
  • खिलौना मेलों का आयोजन करना
  • चाक और बात विधि का प्रयोग करना

प्रश्न- 2. खिलौना शिक्षाशास्त्र शिक्षार्थियों की वृद्धि और विकास में किस प्रकार सहायता करता है-

  • यह केवल आलोचनात्मक सोच को बढ़ावा देता है
  • शारीरिक विकास में ही मदद करता है
  • इससे उन्हें बेहतर अंक प्राप्त करने में मदद मिलती है
  • यह एक साथ संज्ञानात्मक साइकोमीटर और भावनात्मक पक्ष डोमेन विकसित करने में मदद करता है

प्रश्न- 3. खिलौना शिक्षाशास्त्र क्या सीखने और सीखने में प्रभावी हो सकता है-

  • केवल भाषाएं
  • सभी विषय
  • केवल गणित
  • केवल विज्ञान और सामाजिक विज्ञान

प्रश्न- 4. निम्नलिखित में से क्या खिलौना शिक्षा शास्त्र द्वारा पूरा नहीं किया जाता है-

  • रचनात्मक और आलोचनात्मक सोच को बढ़ावा दिया जाता है
  • विद्यार्थी खिलौने बनाने में माहिर बन जाते हैं
  • देसी खिलौनों को समझने और तलाशने का अवसर दिया जाता है
  • विद्यार्थियों को विभिन्न खिलौने और खेलों से परिचित कराया जाता है



प्रश्न- 5. क्या खिलौना शिक्षा शास्त्र का अर्थ है कि हमें प्रत्येक सीखने के अनुभवों के लिए नए खिलौने बनाने होंगे-

  • केवल कभी-कभी
  • उपलब्ध खिलौनों का प्रयोग करें
  • केवल कुछ विषयों में
  • हां हमेशा

प्रश्न- 6. निम्नलिखित में से किसका उपयोग खिलौनों के रूप में नहीं किया जा सकता है-

  • पहेलियां
  • खेल बोर्ड
  • पुस्तकें
  • ऑनलाइन खिलौने मोबाइल

प्रश्न- 7. क्या विद्यार्थियों में 21वीं सदी के कौशलों को विकसित करने के लिए खिलौना शिक्षा शास्त्र का उपयोग किया जा सकता है-

  • केवल कुछ स्थितियों में
  • केवल कुछ कौशलों के लिए
  • नहीं कदापि नहीं
  • हां इसका इस्तेमाल किया जा सकता है

प्रश्न- 8. निम्नलिखित में से कौन सी विधि खिलौना शिक्षा शास्त्र में उपयुक्त नहीं हैं-

  • परीक्षा में बेहतर करने के लिए पाठ्यपुस्तक की सामग्री को याद रखना
  • उपयुक्त अंतराल पर आइस ब्रेकिंग गतिविधियों के लिए खिलौना का उपयोग
  • व्यावहारिक अनुभव और इसकी प्रस्तुति
  • ब्रेनस्टॉर्मिंग शत्रुओं का उपयोग

प्रश्न- 9. क्या खिलौना समावेशी कक्षाएं बनाने में सहायक हो सकते हैं-

  • समावेशी कक्षा के लिए खिलौने उपयोगी उपकरण हैं
  • खिलौने केवल प्रतिभाशाली विद्यार्थियों के लिए सहायक होते हैं
  • खिलौने केवल विशेष आवश्यकता वाले विद्यार्थियों के लिए उपयोगी होते हैं
  • खिलौने समावेशिता को बढावा नही देते

प्रश्न- 10. प्राचीन काल में खिलौने बनाने के लिए निम्नलिखित में से किस सामग्री का उपयोग किया जाता था-

  • प्लास्टिक
  • लकड़ी
  • रेशा
  • कांच

प्रश्न- 11. खिलौना शिक्षा शास्त्र को एकीकृत करने से विद्यार्थियों को सीखने की प्रक्रिया में क्या लाभ होता है-

  • नए कौशलों को पहचानने में मदद करता है
  • विषय के प्रति भय विकसित करता है
  • आवंटित कार्यों को पूरा करने के लिए पर्याप्त समय प्रदान नहीं करता है
  • जुड़ाव काम करता है

प्रश्न- 12. निम्नलिखित कौशलों को विकसित करने में खिलौनों और खेलों का उपयोग एक उपयुक्त उपकरण नहीं है-

  • आलोचनात्मक चिंतन क्रिटिकल थिंकिंग और समस्या समाधान
  • प्रॉब्लम सॉल्विंग पठान
  • संप्रेषण और अनुकूलनशीलता
  • रचनात्मक और कल्पनाशीलता

प्रश्न- 13. खिलौने और खेल बनाने का कौशल माध्यमिक स्तर के विद्यार्थियों की मदद नहीं करेगा-

  • क्षेत्रीय संसाधनों का उपयोग करने के लिए ज्ञान और कौशल प्राप्त करने में
  • हाथ से बने खिलौने बेचने में
  • उपकरण बनाने और उन्हें प्रबंधित करने में
  • उपकरणों टूल्स का उपयोग करने में

प्रश्न- 14. कक्षा में बनाएं और उपयोग किए जाने वाले खिलौने की संभावित उपयोग क्या है-

  • आसान पहुंच और भविष्य के उपयोग के लिए एक लोना बैंक बनाएं
  • प्राचार्य के कार्यालय में शोपीस के रूप में
  • इसे स्टोर रूम में रखें
  • उन्हें शिक्षकों और विद्यार्थियों को उपहार के रूप में दें

प्रश्न- 15. निम्नलिखित में से कौन खिलौना शिक्षा शास्त्र के अंतर्गत नहीं आता है-

  • अवधारणाओं को सिखाने के लिए स्वदेशी खिलौनों का उपयोग करना
  • नए खिलौने बनाने के लिए उपयोग करना
  • अंत: विषय पर योजनाएं
  • कविता लेखन

प्रश्न- 16. निम्नलिखित में से क्या खिलौना शिक्षा शास्त्र द्वारा पूरा नहीं किया जाता है-

  • देशी खिलौनों को समझने और तलाशने का अवसर दिया जाता है
  • विद्यार्थी खिलौने बनाने में माहिर बन जाते हैं
  • रचनात्मक और आलोचनात्मक सोच को बढ़ावा दिया जाता है
  • विद्यार्थियों को विभिन्न खिलौने और खेलों से परिचित कराया जाता है

प्रश्न- 17. खिलौने और खेल सीखने की प्रक्रिया के अभिन्न अंग के रूप में निश्चित रूप से प्रत्येक शिक्षार्थी के संज्ञानात्मक मनोप्रेणा और भावात्मक विकास की प्रक्रिया को चिंगारी और गति प्रदान करेंगे-

  • केवल कुछ स्थितियों में
  • हां हमेशा
  • केवल निश्चित आय वर्ग के साथ

प्रश्न- 18. निम्नलिखित में से कौन-सा एक पारंपरिक भारतीय खिलौना है-

  • इलेक्ट्रॉनिक खेल
  • मोबाइल बेब ऐप्स
  • जादू कार्ड
  • रोबोट

प्रश्न- 19. खिलौना शिक्षा शास्त्र के अंतर्गत निम्नलिखित में से क्या नहीं किया जा सकता है-

  • कक्षा में अपने खुद के खिलौने बना सकते हैं
  • गुड़िया संग्रहालय जैसी जगहों पर जा सकते हैं
  • खिलौने केवल शिक्षक ही बनाएंगे
  • उपलब्ध स्वदेशी खिलौनों का उपयोग कर सकते हैं



प्रश्न- 20. खिलौना शिक्षा शास्त्र को लागू करने के लिए निम्नलिखित में से क्या आवश्यक है-

  • एक विशेष खिलौना कक्ष
  • खिलौने बनाने के लिए गुणवत्तापूर्ण सामग्री और उपकरण
  • पेशेवर खिलौना निर्माता
  • खिलौना शिक्षा शास्त्र पर शिक्षकों का क्षमता निर्माण

प्रश्न- 21. निम्नलिखित में से कौन खिलौना शिक्षा शास्त्र का मूल सिद्धांत नहीं है-

  • सीखना अनुभवात्मक है
  • सीखना अंतर विषयक ट्रांसडिसीप्लिनरी है
  • सीखना समावेशी है
  • सीखना शिक्षक केंद्रित है

प्रश्न- 22. शिक्षण अधिगम की प्रक्रिया में देशी खिलौनों और खेलों को शामिल करने से विद्यार्थियों को उनकी सांस्कृतिक जड़ों से जुड़ने में मदद मिल सकती है-

  • केवल निश्चित आय वर्ग के साथ
  • केवल कुछ स्थितियों में
  • हां हमेशा
  • बिल्कुल नहीं

प्रश्न- 23. गुड़िया और जानवरों के भरवा स्टफ्ड खिलौनों का उपयोग शिक्षण और सीखने के लिए किया जा सकता है-

  • केवल भाषाएं
  • केवल विज्ञान अवधारणाएं
  • सभी विषय
  • केवल समाजिक विज्ञान

प्रश्न- 24. खिलौना शिक्षाशास्त्र इसमें मदद नहीं कर सकता-

  • आलोचनात्मक चिंतन और समस्या को सुलझाने के कौशलों का निर्माण
  • अंत: विषय दृष्टिकोण अप्रोच को शामिल करना
  • विद्यार्थियों का जुड़ा बनाना
  • सही उत्तरों को याद रखना

प्रश्न- 25. माध्यमिक स्तर के विद्यार्थियों में सांस्कृतिक समाज और सांस्कृतिक अभिव्यक्ति को विकसित करने में देशी खिलौने और खेल एक प्रमुख भूमिका निभा सकते हैं-

  • हां हमेशा
  • केवल कुछ विषयों में
  • केवल चयनित स्थितियों में
  • नहीं यह असत्य है

प्रश्न- 26. क्या माध्यमिक स्तर पर खिलौनों को सभी विषयों के साथ एकीकृत किया जा सकता है-

  • केवल सामाजिक विज्ञान और भाषाओं के साथ
  • बिल्कुल एकीकृत नहीं किया जा सकता
  • सभी विषयों के साथ एकीकृत किया जा सकता है
  • केवल विज्ञान के साथ

प्रश्न- 27. खिलौना शिक्षा शास्त्र का उपयोग किसके द्वारा किया जा सकता है-

  • केवल कला शिक्षक
  • केवल खेल शिक्षक
  • केवल विज्ञान शिक्षक
  • प्रत्येक शिक्षक

प्रश्न- 28. खिलौना शिक्षा शास्त्र का प्रयोग बढ़ावा नहीं देता है-

  • खिलौना शिक्षा शास्त्र का प्रयोग बढ़ावा नहीं देता है
  • सामग्री का सटीक संस्मरण
  • प्रायोगिक ज्ञान
  • दक्षता आधारित शिक्षा



प्रश्न- 29. क्या खिलौना शिक्षाशास्त्र केवल पारंपरिक खिलौनों के प्रदर्शन को बढ़ावा देता है-

  • केवल पारंपरिक खेल
  • यह सभी प्रकार के खिलौनों को बढ़ावा देता है
  • केवल प्रौद्योगिकी आधारित खिलौने
  • हां यह केवल पारंपरिक खिलौने को बढ़ावा देता है

प्रश्न- 30. खिलौना शिक्षा शास्त्र में खिलौने को कहा गया है-

  • केवल ईसीसीई स्तर पर शिक्षण अधिगम सहायता सामग्री
  • आकलन के उपकरण
  • शैक्षणिक उपकरण
  • परीक्षा की विधि

प्रश्न- 31. खिलौना शिक्षा शास्त्र क्या है-

  • अपने आप में एक विषय
  • खिलौने और खेल के माध्यम से सीखना
  • खेल (sports) को एक विषय के रूप में बढ़ावा देता है
  • खेलों (games) को एक विषय के रूप में बढ़ावा देता है

प्रश्न- 32. निम्नलिखित मे से कौन खिलौना शिक्षाशास्त्र के अन्तर्गत नही आता है-

  • रोबोट
  • हस्त निर्मित खिलौने
  • खेल
  • स्वर संगीत

प्रश्न- 33. खिलौना एक त्रिआयामी मूर्त वस्तु प्राकृतिक या मानव निर्मित हो सकता है जो एक बच्चे को रचनात्मक खेल में संलग्न कर सकता है

  • केवल कुछ खिलौनों के लिए मान्य
  • हां हमेशा
  • केवल कुछ स्थितियों में मान्य
  • बिल्कुल नहीं

प्रश्न- 34. खिलौना शिक्षाशास्त्र एक शिक्षण अधिगम उपागम अप्रोच है जो निम्नलिखित पर आधारित है-

  • केवल आधुनिक तकनीकी गेम के साथ सीखना
  • केवल संगीत के साथ माध्यम से सीखना
  • एक अद्वितीय कला रूप के साथ सीखना
  • खिलौनों और खेलों के माध्यम से सीखना

प्रश्न- 35. कंधई जात्रा या खिलौना मेला जो कि एक पारंपरिक त्योहार है इसे हर साल कहां मनाया जाता है-

  • बिहार
  • उड़ीसा
  • गुजरात
  • पश्चिम बंगाल

प्रश्न- 36. निम्नलिखित में से कौन पारंपरिक भारतीय खिलौने और खेल के बारे में असत्य हैं-

  • खिलौने वैज्ञानिकों नहीं बनाए हैं
  • वह पर्यावरण के अनुकूल हैं
  • खिलौनों ने प्रकृति से ली प्रेरणा
  • बच्चों को भविष्य की भूमिका के लिए तैयार करते है

प्रश्न- 37. निम्नलिखित में से कौन पारंपरिक खिलौना श्रेणी के अंतर्गत नहीं आता है-

  • लटटू
  • ड्रोन
  • फिरनी (पिनव्हील)
  • पतंगे

प्रश्न- 38. खिलौनों के साथ संलग्न होने के दौरान शिक्षार्थी निम्नलिखित प्रक्रिया से नहीं गुजरता है-

  • रटना
  • ज्ञान को सत्यापित करना और लागू करना
  • सोचा और कल्पना
  • अन्वेषण और प्रयोग

प्रश्न- 39. निम्नलिखित में से कौन एक स्वदेशी खिलौना खेल नहीं है-

  • डिजिटल मेंज पहेलियां
  • लट्टू
  • पतंगे
  • सांप और सीढ़ी

आशा है Nishtha Module 12 ”खिलौना आधारित शिक्षाशास्त्र” प्रश्नोत्तरी की Answer Key पढ़कर आपको सहायता मिली होगी | Nishtha Module 12 खिलौना आधारित शिक्षाशास्त्र की Answer Key अतिरिक्त अन्य मॉड्यूल की प्रश्नोत्तरी का हल नीचे दिए बटन पर क्लिक करके पढ़ें |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!